Cricket News: Ravi shashtri became the new Indian coach.

रवि शास्त्री बने टीम इंडिया के कोच, 2 साल में उनके सामने होंगे ये 5 चैलेंज

स्पोर्ट्स डेस्क. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के फेवरेट रवि शास्त्री आखिरकार हेड कोच बन ही गए। जून, 2017 में अनिल कुंबले के इस्तीफे के बाद से ही शास्त्री को इस जॉब के लिए फेवरेट माना जा रहा था। अब कोच बनने के बाद शास्त्री और खुद कप्तान विराट कोहली के लिए कई बड़े चैलेंज हैं। चैलेंज इसलिए भी क्योंकि दोनों बेहतर रिजल्ट के लिए एक-दूसरे के साथ काम करना चाहते थे। ऐसे में शास्त्री को सबसे पहले 2019 वर्ल्ड कप की टीम के बारे मे सोचना होगा। 2019WCकी टीम तैयार करना, धोनी पर फैसला
– रवि शास्त्री 2019 में होने वाले वनडे वर्ल्ड कप तक के लिए टीम इंडिया के हेड कोच बने है। ऐसे में उनके सामने सबसे बड़ा चैलेंज इस बड़े टूर्नामेंट के लिए टीम तैयार करने का होगा। इसकी तैयारी उन्हें अभी से शुरू करनी होगी। टीम ऐसी हो जिसमें अनुभव के साथ युवा जोश भी हो। ऐसे में उनपर सबसे ज्यादा प्रेशर टीम में दो सीनियर्स क्रिकेटर्स की भूमिका तय करने का होगा। ये हैं एमएस धोनी और युवराज सिंह।
– शास्त्री के कोच बनने से धोनी मुश्किल स्थिति में आ सकते हैं। धोनी-शास्त्री के बीच रिश्ते पहले से ही फ्रेंडली नहीं हैं। 2015 में बांग्लादेश टूर पर गई टीम इंडिया जब वहां हारने लगी थी तब दोनों के बीच तनाव खुलकर सामने आया था। तब धोनी को ये तक कहना पड़ा था कि वो कप्तानी में विराट की मदद चाहते हैं।
– मीडिया रिपोर्ट्स में तब ये बात कर आई थी कि टीम इंडिया दो खेमों में बंट गई है। कुछ खिलाड़ी धोनी के सपोर्ट में हैं तो कुछ टेस्ट कप्तान बन चुके विराट के फेवर में हैं। 2016 में टी20 वर्ल्ड कप के बाद जब शास्त्री का कार्यकाल खत्म हो गया था, तब भी धोनी ने कहा था कि सिर्फ पद भरने के लिए किसी को भी कोच बनाना सही नहीं है। जबकि, विराट ने शास्त्री का नाम लिया था।
– अब जब टीम कोच और कप्तान के हिसाब से चलेगी, तो धोनी को अपनी जगह टीम में बनाए रखने के लिए परफॉर्म करना ही होगा। लगातार खराब प्रदर्शन के कारण वो पहले से ही निशाने पर हैं। धोनी वेस्ट इंडीज सीरीज में 5 मैचों में 32 की एवरेज से सिर्फ 161 रन बना सके। इससे पहले चैम्पियंस ट्रॉफी के 5 मैचों में भी धोनी मात्र 67 रन बना सके थे। उन्हें 2 मैच में बैटिंग का मौका मिला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *